What'sTheNews

⠀⠀एक कदम स्वतंत्रता की ओर…

नक्सली हमले को लेकर कोंडागांव पुलिस के प्रेस कॉन्फ्रेंस, मुठभेड़ की पूरी खबर पढ़ें यहां

कल दिनांक 1 जून को जिला कोंडागांव पुलिस और नक्सलियों के बीच बड़ी मुठभेड़ हुई जिसमे पुलिस ने 2 नक्सलियों को मार गिराया। विगत कई दिनों से थाना धनोरा एवं केशकाल क्षेत्र में बड़े नक्सली कैडर एवं नक्सली सदस्यों के उपस्थिति की लगातार सूचना मिल रही थी जिस पर पुलिस महा निरीक्षक बस्तर रेंज श्रीमान पी सुंदरराज व पुलिस उप पुलिस महानिरीक्षक उत्तर बस्तर कांकेर श्रीमान विनीत खन्ना के निर्देशन एवम पुलिस अधीक्षक कोंडागांव श्रीमान सिद्धार्थ तिवारी के मार्गदर्शन एवं उप पुलिस अधीक्षक आप्स कोंडागांव दीपक मिश्रा के क्रियान्वयन जिला कोंडागांव डीआरजी की टीम आइटीबीपी 29 वी वाहिनी कोंडागांव, बीएसएफ 17 वी वाहिनी इरागांव एवं जिला कांकेर के सुरक्षा बल सघन गश्त सर्चिंग करते हुए कोंडागांव एवं कांकेर के सरहदी क्षेत्र में नक्सलियों के विरुद्ध लगातार अभियान चला रहे थे।

 

इसी संबंध में दिनांक 30.05.21 को जिला कोंडागांव के घनोरा एवं केशकाल क्षेत्र में नक्सलियों की उपस्थिति की सूचना मिलने पर सुरक्षाबलों को रवाना किया गया था। इस दौरान दिनांक 01.06.21 के प्रातः ग्राम भंडार पाल के नजदीक पहले से घात लगाकर बैठे नक्सलियों द्वारा पुलिस को आता देख गोलीबारी चालू की गई जिसके बाद पुलिस पार्टी द्वारा भी आत्म रक्षार्थ तत्काल जवाबी फायरिंग की गई इस तरह लगभग डेढ़ घंटे चली मुठभेड़ के बाद नकली पुलिस को भारी पड़ता देख जंगल के आड़ लेकर भाग गए। फायरिंग बंद होने के बाद जब उक्त इलाके की सर्चिंग की गई तो एक पुरुष नक्सली और एक महिला नक्सली का शव बरामद हुआ साथ में एक नग एसएलआर रायफल, एक नग 303 रायफल, 03 नग 315 बोर रायफल, 02 मैगजीन, एसएलआर राउंड 27 नग एवम 303 रायफल के राउंड 13 नग, बरामद विस्फोटक एवं दैनिक उपयोग की सामग्री मैं मुख्य रूप से दवाइयां, नक्सली वर्दी, पिट्ठू सेट, डेटोनेटर, वायर, सोलर पैनल, रेडियो सेट, नगदी पैसा, चाकू, लोहे के अन्य देसी हथियार, डायरी, नक्सल साहित्य, नक्सल दस्तावेज, भारी मात्रा में सामग्री बरामद की गई।

 

बताया जा रहा है कि मारे गए नक्सली मार्च माह में थाना धनोरा के कुएंमारी क्षेत्र में हुए आगजनी में एवं क्षेत्र में हुए अन्य कई नक्सली घटनाओं में शामिल थे।

 

 

Translate »