What'sTheNews

⠀⠀एक कदम स्वतंत्रता की ओर…

ताऊ ते के बाद भी अभी राहत नहीं, तबाही मचाने आ रहा एक और तूफान

देश में‘ताऊ ते’ चक्रवात के बाद अब नए चक्रवात ‘यास’ का खतरा मंडरा रहा है. भारत मौसम विज्ञान विभाग के अनुसार 26 मई को यास चक्रवात के ओडिशा-पश्चिम बंगाल के तट से गुजरने की आशंका है. विभाग के अलर्ट के बाद ओडिशा सरकार ने 30 में से 14 जिलों को सतर्क करने का काम किया है.

 

जानकारी के अनुसार ओडिशा सरकार ने भारतीय नौसेना एवं भारतीय तट रक्षक बल से स्थिति से निपटने के लिए तैयार रहने का आग्रह किया है. ओडिशा के मुख्य सचिव एससी मोहपात्रा ने वरिष्ठ अधिकारियों के संग बैठक की. बैठक के बाद उन्होंने कहा कि यदि चक्रवात ‘यास’ का राज्य पर कोई प्रभाव पड़ता है तो राज्य सरकार ने किसी भी स्थिति से निपटने के लिए कमर कस चुकी है.

 

मोहपात्रा ने कहा कि हालांकि अबतक मौसम विभाग ने चक्रवात के संभावित, मार्ग, इसकी गति, तट से टकराने का स्थान आदि के बारे में जानकारी नहीं दी है, फिर भी सरकार सचेत है और तैयारियां शुरू हो चुकी है. मौसम विभाग ने कहा है कि 22 मई को बंगाल की खाड़ी के पूर्वी मध्य हिस्से पर एक कम दबाव का क्षेत्र बनेगा जो चक्रवाती तूफान में बदल सकता है और 26 मई को ओडिशा-पश्चिम बंगाल के तटों से टकरा सकता है.

 

आपको बता दें इसके कुछ दिन पहले ही ताऊ ते चक्रवात ने देश में भारी तबाही मचाई थी।

 

 

 

Translate »